February 21, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

Gorakhpur City News : Gorakhpur में जाम से मिलेगी राहत - शहर में निर्धारित रूट पर ही चलेंगे ई-रिक्शा, तैयार हो रहा प्लान

Gorakhpur City News : Gorakhpur में जाम से मिलेगी राहत – शहर में निर्धारित रूट पर ही चलेंगे ई-रिक्शा, तैयार हो रहा प्लान

Gorakhpur City News: There will be relief from jam in Gorakhpur – E-rickshaws will run only on fixed routes in the city, plan is being prepared.

Gorakhpur। गोरखपुर शहर को आने वाले समय में जाम से निपटने के लिए ई-रिक्शा का तय रूटों पर ही संचालन किया जा सकता हैं, इस पर यातायात पुलिस और आरटीओ विचार कर रहे हैं। गोलघर में ई-रिक्शा, ऑटो पर पाबंदी के बाद अब इन्हें व्यवस्थित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है, ताकि ई-रिक्शा की संख्या को भीड़ के हिसाब से रूट तय करके बांटा जा सके,

इसके साथ ही देहात परमिट के ऑटो को शहर में प्रवेश पूरी तरह से बंद करने की भी तैयारी है। इसके लिए शहर के बरगदवां, नौसड़, देवरिया बाईपास, कुनराघाट के पास चेक पोस्ट भी बनाए जाएंगे, ताकि व्यवस्था लागू होने के बाद इनके प्रवेश पर पूरी तरह से पाबंदी लग सके।

Gorakhpur महानगर के प्रमुख सड़कों पर चल रहे ई-रिक्शों की मनमानी अक्सर जाम की वजह बनती है। इसके लिए अभी तक न तो रूट निर्धारित है और न ही स्टैंड। दूसरे देहात के ऑटो वाले भी शहर में आते हैं, जिस वजह से जाम की समस्या होती हे। रेती, गोलघर, बेतियाहाता, रूस्तमपुर, मोहद्दीपुर, गोरखनाथ, रेती, बरगदवां, मेडिकल कॉलेज, पादरीबाजार, ट्रांसपोर्टनगर, फलमंडी के पास जाम की स्थिति बनी रहती है।

Gorakhpur

बताते चले कि जाम से निपटने के लिए यातायात पुलिस लगातार कोशिश कर रही है। नगर निगम और पुलिस की टीम ने अतिक्रमण हटाकर सड़कों को चौड़ा कर दिया है तो अब ऑटो, ई-रिक्शा की संख्या को कम करने का फैसला लिया गया है। इसके लिए शहर में देहात के ऑटो का प्रवेश बंद करने की तैयारी है। इसके साथ ही शहर में चलने वाले ई-रिक्शों के रूटों का निर्धारण किया जाएगा।

शहर में मौजूदा समय 3114 ई-रिक्शों का संचालन किया जा रहा है। सबसे बड़ी बात यह है कि नियमों में ही यह ही है कि ई-रिक्शों को प्रमुख मार्गों पर नहीं चलना है, लेकिन सभी जगहों पर इनका कब्जा है। इस वजह से जाम भी लगता है और वाहनों की रफ्तार भी कम हो जाती है। इसी वजह से इन्हें प्रमुख रास्तों से हटाकर सर्विस मार्ग पर चलाए जाने की तैयारी की जा रही है। हालांकि, बुकिंग के बाद ई-रिक्शा को कहीं पर भी जाने में रोक-टोक नहीं होगी। वहीं 3233 ऑटो में से देहात वाले ऑटो को शहर के बाहर करना है।

Gorakhpur

जोन में बांटने की तैयारी व रंग भी होगा निर्धारित के लिए मंथन कर रही टीम जोन बांटकर उसी हिसाब से ई-रिक्शों का रंग भी निर्धारित किया जाएगा। इससे दूसरे रूट पर जाने पर तत्काल उनका पता भी चल जाएगा। इसके लिए पांच से अधिक जोन बनाए जा सकते हैं। अभी एक-एक रूट पर सवारी का भी आकलन किया जा रहा है। इसके पीछे की मंशा है कि उस रूट पर उसी हिसाब से ई-रिक्शों की संख्या निर्धारित की जाएगी।

एसपी ट्रैफिक श्यामदेव विंद ने कहा कि जाम से निजात के लिए यातायात पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। गोलघर में ई-रिक्शा, ऑटो पर पाबंदी लगा दी गई है। अब आरटीओ के साथ संयुक्त कोशिश की जा रही है कि देहात के ऑटो का शहर में आने पर पूरी तरह से पाबंदी लग सके और ई-रिक्शा का रूट निर्धारण कर दिया जाए। इस पर काम किया जा रहा है, जल्द ही इसे लागू कर दिया जाएगा।

error: Content is protected !!