October 4, 2023

UP One India

Leading Hindi News Website

हिन्दू महासभा के बिगड़े बोल: जुमे की नमाज़ को बताया आतंकियों की नमाज़, अलग-अलग धाराओं में मुकदमा दर्ज

हिन्दू महासभा के बिगड़े बोल: जुमे की नमाज़ को बताया आतंकियों की नमाज़, अलग-अलग धाराओं में मुकदमा दर्ज

विवादित शब्दों का प्रयोग करते हुए अखिल भारत हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पाण्डेय ने जुमे की नमाज़ को आतंकियों की नमाज़ जैसे शब्दों के पैम्फलेट लगाकर विरोध किया है

अलीगढ़। कानपुर में जुमे की नमाज़ के बाद हुई हिंसा को लेकर हिन्दू महासभा के कार्यकर्ताओं ने कल खून से राष्ट्रपति को पत्र लिखा था, जिसमें जुमे की नमाज़ को बंद करने व प्रतिबंध लगाने की माँग की गई थी, इसके साथ ही कई विवादित शब्दों का प्रयोग करते हुए अखिल भारत हिन्दू महासभाकी राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पाण्डेय ने जुमे की नमाज़ को आतंकियों की नमाज़ जैसे शब्दों के पैम्फलेट लगाकर विरोध किया है, पत्र में सालों पहले 1946 से लेकर 1989 तक की घटनाओं में जुमे की नमाज़ के बाद कि तकरीरों को ज़िम्मेदार बताया है, गांधी पार्क थाना इलाके के बिदास कंपाउंड मैं अपने कार्यालय पर इन्होंने पत्र लिखा था, अब इस मामले में पूजा शकुन पाण्डेय ने माफ़ी मांगी है लेकिन प्रशासन ने इस संबंध में 24 घण्टे के अंदर इनसे जवाब माँगा है कि आपके विरुद्ध कार्यवाही क्यों न कि जाए? वहीं पुलिस ने इस मामले में अलग अलग धाराओं के अंतर्गत पूजा शकुन पाण्डेय के विरुद्ध मुक़द्दमा पंजीकृत कर लिया है।

अखिल भारत हिन्दू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पाण्डेय

बताते चले पिछले दिनों कानपुर में जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा को लेकर आज हिंदू महासभा के कार्यकर्ता व राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे और राष्ट्रीय प्रवक्ता अशोक पांडे ने एक पत्र राष्ट्रपति के नाम खून से लिखा है, पत्र में पूजा शकुन पांडे ने जुमे की नमाज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है, विवादित शब्दों का प्रयोग करते हुए पूजा शकुन पांडे ने जुमे की नमाज को आतंकियों की नमाज बताया है, इस दौरान हिंदू महासभा ने अपने कार्यालय में विवादित पोस्टर भी लगाए है।

देश में पुराने वक्त में हुई घटनाओं को लेकर उन्होंने कहा, जुमे की नमाज के बाद होने वाली तकरीर को जिम्मेदार ठहरा है, इस पत्र के माध्यम से उन्होंने उचित कार्यवाही की मांग की है, आगे पूजा शकुन पांडे ने कहा है, जुमे की नमाज के बाद कानपुर में हुई घटना ने हमारी सहनशक्ति को तोड़ दिया है, चाहे आजादी से पहले की बात हो या फिर आजादी के बाद, हमने कुछ घटनाक्रम अपने पत्र में चयनित किए हैं, इतिहास इस बात का गवाह है, जुम्मे की नमाज ना होकर यह आतंकी दिवस बन गया है, जुम्मे की नमाज में इबादत के नाम पर यह लाखों की तादात में लोग इकट्ठा होते हैं, हिंदुओं पर कैसे जुल्म किया जाए, कैसे लूटपाट की जाए, कैसे उपद्रव मचाया जाए, यह सारी तकदीर होती है, जितना यह देश में हिंदुओं का नुकसान कर रहे हैं, इन सब को ध्यान में रखते हुए तत्काल जुमे की नमाज पर रोक लगनी चाहिए, इस दौरान राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा है, हिंदू महासभा ने इस दौरान विवादित टेंप्लेट भी अपने कार्यालय में लगाए हैं।

एसएसपी

इस मामले पर एसएसपी ने कहा कि पूजा शकुन पाण्डेय के विरुद्ध विवादित बयान देने के मामले में थाना गाँधी पार्क में धारा IPC 153A/153B/295A/298/505 एफआईआर पंजीकृत की गई है, विवेचना प्रचलित है, वहीं संबंधित मजिस्ट्रेट द्वारा भी इनको नोटिस निर्गत किया गया।

error: Content is protected !!