July 11, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

एक नजर में: जाने कौन है सिसवा विधानसभा से सपा प्रत्याशी सुशील टिबडेवाल, क्या है राजनीतिक व पारिवारिक स्थिति

       

एक नजर में जाने कौन है सिसवा विधानसभा से सपा प्रत्याशी सुशील टिबडेवाल, क्या है राजनीतिक व पारिवारिक स्थिति

   महराजगंज। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने करीबी और उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री सुशील कुमार टिबड़ेवाल को सपा का महराजगंज जिले की 317, सिसवा विधानसभा सीट पर अधिकृत उम्मीदवार घोषित किया है। श्री टिबड़ेवाल अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री वाले कार्यकाल में उनके साथ मंत्री थे। उनको उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद का उपाध्यक्ष बनाया गया था। अपने इस कार्यकाल में इन्होंने जिले में विकास के बड़े कीर्तिमान स्थापित किये। जिसे लेकर जनता इन्हें काफी सम्मान देती है और विकास पुरुष मानती है।
      इस घोषणा के बाद पूरे विधानसभा में सपा समर्थकों में जश्न का माहौल है। चारों तरफ अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे सपा कार्यकर्ता लगा रहे हैं। जनता के बीच से शानदार प्रतिक्रिया सामने आया है। सबका मानना है कि अखिलेश यादव ने एक जमीनी नेता को चुनाव मैदान में उतारा है।
     वैश्य और व्यापारी समाज से आने वाले समाज से पूर्व मंत्री सुशील टिबड़ेवाल का जन्म महराजगंज जिले के सिसवा कस्बे में 1 मार्च 1957 को हुआ है। उनकी प्राइमरी तक की शिक्षा सिसवा कस्बे के सरकारी प्राथमिक स्कूल में हुई है। श्री टिबड़ेवाल के माता का नाम परमावती देवी है और पिता का नाम पीतराम टिबड़ेवाल है।  
   

 श्री टिबड़ेवाल की छवि एक जमीनी, जुझारु और संघर्षशील, ईमानदार व्यक्ति की रही है। श्री टिबड़ेवाल की पत्नी लक्ष्मी देवी टिबड़ेवाल गृहणी हैं। इनको दो पुत्र और दो पुत्रियां हैं। दो पुत्रियां शिल्पी सिकारिया और मनीषा रुंगटा हैं। बड़े पुत्र मनोज टिबड़ेवाल आकाश देश के बड़े पत्रकारों में से एक हैं और नई दिल्ली से चलने वाले लोकप्रिय न्यूज़ पोर्टल डाइनामाइट न्यूज़ के एडिटर-इन-चीफ हैं। ये इससे पहले लगातार 10 साल तक दूरदर्शन न्यूज़, नई दिल्ली में बतौर वरिष्ठ एंकर और राजनीतिक संवाददाता कार्यरत रहे। छोटे पुत्र मोहित टिबड़ेवाल महराजगंज जिले के प्रमुख दवा व्यवसायी हैं।
        श्री टिबड़ेवाल महराजगंज नगर के गौरव कहे जाने वाले श्री दुर्गा मंदिर एवं संस्कृत पाठशाला समिति के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। 24 मार्च 1979 को इन्होंने नगर में दुर्गा मंदिर की नींव रखी थी।
     श्री टिबड़ेवाल ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत चिउरहां-मऊपाकड़ के ग्राम पंचायत सदस्य के रुप में की थी। ये किसान सेवा सहकारी समिति के डायरेक्टर भी रहे। इसके बाद केन्द्रीय उपभोक्ता भंडार के चेयरमैन निर्वाचित हुए।
  

   इन्होंने भारत सरकार की कई बड़ी कमेटियों का प्रतिनिधित्व किया है। इनमें भारत सरकार की नागरिक उड्डयन मंत्रालय की समिति के सदस्य, रेलवे बोर्ड की रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति लखनऊ मंडल के सदस्य, भारत सरकार की दूरसंचार सलाहकार समिति, गोरखपुर के सदस्य शामिल हैं।
     श्री टिबड़ेवाल अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री वाले कार्यकाल में उनके साथ मंत्री थे। इनको उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद का उपाध्यक्ष बनाया गया था।

error: Content is protected !!