July 10, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

साहब संत के चंगुल से मेरी बेटी को बचाइए, फूट-फूट कर रोई माँ

साहब संत के चंगुल से मेरी बेटी को बचाइए, फूट-फूट कर रोई माँ

कारोबारी ने पत्नी संग राज्य महिला आयोग की सदस्य से लगाई गुहार

कानपुर। किदवई नगर निवासी कारोबारी ने सोमवार को पत्नी संग वन स्टॉप सेंटर पहुंचकर राज्य महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर, रंजना शुक्ला व एडीसीपी महिला अपराध शिवाजी से गुहार लगाई। उन्होंने कहा कि उनका पूरा परिवार पिछले करीब कई सालों से एक प्रसिद्ध संत के धार्मिक आयोजनों में शामिल होता रहा है।

उन्होंने बताया कि उनकी बेटी भी बंगलुरु से अपनी शिक्षा पूरी करके आई और वह भी उनके संपर्क में आई। आरोप है कि आचार्य ने बहाने से उसे कार्यक्रमों में बुलाना शुरू कर दिया और तंत्र-मंत्र के प्रभाव से उसे अपने वश में कर लिया। उन्होंने जब बेटी को भेजने को कहा तो आचार्य ने मना कर दिया जब वह उसे लेने आश्रम गए तो उन्हें भगा दिया और धमकी दी।

इस दौरान बेटी की माँ फूट-फूट कर रोई और कहने लगी कि,किसी तरह मेरी बेटी को सुरक्षित वापस बुला लो। पीड़ित दंपत्ति का कहना है कि,संत से उनकी बेटी को जान का खतरा है। मामले को लेकर दंपति ने राज्य महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर व रंजना शुक्ला से शिकायत की इस पर उन्होंने कमिश्नर विजय सिंह मीणा को मामले की जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। वहीं आये 16 मामलों में महिला आयोग ने सुनवाई की।

चकेरी के फ्रैंडस कॉलोनी निवासी सेवानिवृत्त एयरफोर्स कर्मी सुरेंद्र सिंह पाल पत्नी आशालता व छोटे इन्जीनियर बेटे भानु पाल के साथ बड़ी बहू नम्रता से प्रताड़ित होकर शिकायत करने पहुंचे। उन्हेांने कहा कि उनकी बड़ी बहू ने कमरों, किचन तक में ताला डाल रखा है वह बाहर से खाना मंगवाकर खाते हैं। यहां तक कि पानी भी उन्हें बाहर से मंगाकर पीना पड़ता बहू ने धमकी दी है कि अगर पुलिस से शिकायत की तो परिणाम गंभीर होंगे। इस पर राज्य महिला आयोग की सदस्य रंजना शुक्ला ने वन स्टाँप चौकी प्रभारी निधि गुप्ता को मामले की जांच कर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए।

error: Content is protected !!