March 1, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

संदेह में पति ने पत्नी को बेरहमी से पीटा, प्रेमी से शादी के लिए किया मजबूर

संदेह में पति ने पत्नी को बेरहमी से पीटा, प्रेमी से शादी के लिए किया मजबूर

संदेह में एक अधेड़ उम्र की महिला को कथित तौर पर पीटा गया और उसके प्रेमी से शादी करने के लिए मजबूर किया गया

अगरतला। त्रिपुरा के खोवई जिले में विवाहेतर संबंध रखने के संदेह में एक अधेड़ उम्र की महिला को कथित तौर पर पीटा गया और उसके प्रेमी से शादी करने के लिए मजबूर किया गया। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक अधिकारी ने कहा कि कथित घटना शनिवार रात तेलियामुरा थाना क्षेत्र के मध्य कृष्णापुर में हुई, जिसके बाद महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

तेलियामुरा अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) सोनाचरण जमातिया ने कहा कि, हम सच्चाई जानने के वास्ते पीड़िता से मिलने के लिए एक टीम भेजेंगे। पुलिस को अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है, लेकिन कथित घटना की जांच की जाएगी।

महिला ने संवाददाताओं को बताया कि विवाहेतर संबंध होने के संदेह में शनिवार की रात उसका पति 15 अन्य लोगों के साथ उसे धान के खेत में ले गया और उसकी बेरहमी से पिटाई की, जिसके बाद वह होश खो बैठी। उसके कथित प्रेमी से भी मारपीट की गई।
सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक कथित वीडियो में महिला को होश में आने के बाद, उल्लास के बीच ग्रामीणों द्वारा उसके कथित प्रेमी के साथ माला डालने के लिए मजबूर किया जा रहा है।

वीडियो में देखा जा सकता है कि वहां मौजूद कुछ युवक महिला के कथित प्रेमी से उसके माथे पर सिंदूर लगाने के लिए मजबूर कर रहे हैं। महिला के पति ने मीडिया के सामने कबूल किया कि उसने और उसके परिवार के सदस्यों ने उसी गांव के एक व्यक्ति के साथ कथित संबंधों के लिए उसकी पिटाई की।
पति ने बिना किसी पछतावे के कहा, घटना के बाद, मैं उसे इलाज के लिए तेलियामुरा अस्पताल ले गया, और मैंने पूरी रात वहीं बिताई। पुलिस ने मेरे आवास का दौरा किया।

त्रिपुरा महिला आयोग (टीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष बरनाली गोस्वामी ने कथित घटना की निंदा की। उन्होंने कहा, एक सभ्य समाज में, हम एक महिला पर इस तरह के भीषण अत्याचार को बर्दाश्त नहीं कर सकते। एक विवाहित महिला और एक पुरुष के बीच जबरदस्ती विवाह एक प्राकृतिक प्रथा नहीं है। हम घटनाओं के वास्तविक क्रम को जानने के लिए पीड़िता से मिलने के लिए एक टीम भेजेंगे।

error: Content is protected !!