July 12, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

योगी सबसे बड़े जातिवादी, पिछड़े, दलितों का हक छीना: अखिलेश

              

योगी सबसे बड़े जातिवादी, पिछड़े, दलितों का हक छीना: अखिलेश

लखनऊ। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सबसे बड़ा जातिवादी बताते हुए कहा कि उन्होंने पिछड़े, दलितों और अल्पसंख्यकों का हक  और अधिकारछीना है। इस सरकार में नौकरियों से पिछड़े, दलितों का उनका हक नहीं मिला। बड़े पैमाने पर धांधली हुई। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार में महंगाई और भ्रष्टड्ढाचार दोगुना हो गया। बैंक में रखा गरीबों का पैसा लेकर उद्योगपति विदेश भाग गये। इससे पहले भी कई उद्योगपति पैसा लेकर विदेश भाग चुके है। भाजपा सरकार के संरक्षण में उद्योगपति बैंकों से सीधे पैसा लेकर भाग रहे हैं।
अखिलेश ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश, लोकतंत्र और संविधान बचाने का चुनाव है। भाजपा का कोई नेता महंगाई, बेरोजगारी पर बात नहीं कर रहा है। भाजपा का छोटा नेता छोटा झूठ बोलता है और बड़ा नेता बड़ा झूठ बोलता है। झूठ बोलने के लिए अब दूसरे प्रदेश से भी नेता बुला रहे हैं।
    

     विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान जलौन और उन्नाव सपा प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलनों को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने नौजवानों को धोखा दिया। युवाओं से झूठे वादे किए। न नौकरी दी और न रोजगार। न लैपटाप दिया और न स्मार्टफोन। योगी ने डायल 100 सेवा और 108 सेवा भी बर्बाद कर दिया। सपा सरकार बनने पर इन सेवाओं को मजबूत करेंगे। जिससे गरीबों को स्वास्थ्य सेवा और हर तरह से मदद मिलेगी। महिलाओं के लिए पुलिस में अलग विभाग कर देंगे। महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देंगे। बीएड, टीईटी समेत सभी की मदद करेंगे। सरकारी विभागों में रिक्क् 11 लाख पद भरेंगे। वे गर्मी निकालने की बात करते हैं। हम नौकरियां निकालेंगे। भाजपा सरकार सब सरकारी कंपनियां बेच रही है। सब प्राइवेट हो जाएगा तो आरक्षण भी खत्म हो जाएगा। भाजपा बड़ी साजिश कर रही है। इसक ी साजिश और षडयंत्र से सावधान रहना है।
        उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में सांड के हमले में बड़ी संख्या में किसानों की मौत हो गयी। हर जिले में सांड के हमले में मौत हुई है। फसल बर्बाद हो गयी, लेकिन मुख्यमंत्री सांड नहीं पकड़वा पाए। सांड के हमले में जान गवांने वालों की कोई मदद नहीं की। छुट्टा जानवर और सांड के नाम पर हजारों करोड़ का बजट खा गए लेकिन किसानों के  फसल और उनकी जान की सुरक्षा नहीं हो पा रही है। भाजपा सरकार में किसान बर्बाद हो गया। आय दुगुनी नहीं हुई। किसानों को डीएपी और यूरिया नहीं मिला। किसी फसल की कीमत नहीं मिली। न तो किसानों को धान खरीदा गया और न अन्य फसले। अखिलेश यादव ने कहा जब से पश्चिमी यूपी के किसानों ने वोट डाला है। तब से मुख्यमंत्री योगी के चेहरे पर पर 12 बज गए है। किसान नौजवान इनके खिलाफ है। किसानों को अपनी जमींन बचाने के लिए अपनी मिट्टड्ढी की कसम खानी पड़ेगी। भाजपा सरकार किसानों की जमींन छीनने के लिए तीन काले कानून लायी थी। किसान आंदोलन में साढ़े सात सौ किसान शहीद हो गए। भाजपा ने विधानसभा चुनाव देखकर वोट के लिए कानून वापस लिया है। हो सकता है कि विधानसभा चुनाव बाद फिर ये तीन काले कानून लेकर आएं लेकिन इस बार किसान भाजपा को माफ नहीं करेगा। किसान भाजपा को साफ कर देगा। उन्होंने कहा कि सपा सरकार बनने पर महंगाई, बेरोजगारी से निजात मिलेगी।
    

    भाजपा के बंगलौर सांसद तेजस्वी सूर्या पर निशाना साधते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश ने कहा अभी एक अंधा सांसद बंगलौर से आया था। जैसे ही आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस चढ़ा तो उसने एक्सप्रेस बनाने के लिए योगी को धन्यवाद दिया। उसे नहीं पता कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे किसने बनवाया था। अखिलेश ने कहा कि ये भाजपा के लोग उद्घाटन का उद्घाटन करने में बहुत माहिर हैं। देखते रहिए कहीं वह सांसद अपनी पटिया न लगाकर चला जाए। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर सफर के दौरान बंगलौर से भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे को लेकर ट्वीट करके मुख्यमंत्री योगी को बधाई दी। उन्नाव के मोहान में जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने चुटकी लेते हुए कहा कि बंगलौर तो हमारे यूपी से बहुत आगे हैं लेकिन भाजपा के सांसद को वहां भी आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे जैसी सडक़ नहीं दिखी।

error: Content is protected !!