June 18, 2024

UP One India

Leading Hindi News Website

बालिका शिक्षा पर CM Yogi की बड़ी घोषणा कहा, निजी स्कूल में एक परिवार की दो बहनें साथ पढ़ रहीं तो एक की फीस माफ

बालिका शिक्षा पर CM Yogi की बड़ी घोषणा कहा, निजी स्कूल में एक परिवार की दो बहनें साथ पढ़ रहीं तो एक की फीस माफ

             लखनऊ । राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बेटियों को शिक्षा का अनूठा उपहार दिया। निजी स्कूलों में पढऩे वाली एक परिवार की दो बेटियों में से एक की फीस माफ करने को कहा है। अगर निजी स्कूल ऐसा नहीं करते तो सम्बंधित विभाग एक छात्रा की फीस की व्यवस्था करे। गांधी जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में तो उनका लगभग नि: शुल्क पठन-पाठन का काम हो रहा है। अब हम एक और कदम आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि बालिका शिक्षा पर हमने बड़ी योजना तैयार कर ली है। उन्होंने कहा कि निजी स्कूल में अगर एक ही घर से दो बहने पढ़ती हैं तो अभिभावक स्कूल में एक की फीस माफ करने की अपील करें। उनकी अपील पर भी अगर निजी स्कूल ऐसा नहीं करते तो शिक्षा विभाग फीस भरने की व्यवस्था करेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में बहुत लोग फीस भरने में असमर्थ हैं, इससे उनको मदद मिलेगी। केन्द्र के साथ यूपी सरकार भी किसी को किसी भी प्रकार की सुविधा से वंचित नहीं रहने देगी।

               गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को लोक भवन में पूर्वदशम और दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना 2020-21 के तहत 1, 51, 215 मेधावी छात्रों को 177.35 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति का ऑनलाइन हस्तांतरण किया। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित बड़ी संख्या में मंत्री और अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान सीएम ने योजना के 10 लाभार्थी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रमाण पत्र भी दिए।

Read More- कॉलेज से घर लौट रही छात्रा को उठा ले गये गन्ने के खेत, हाथ पैर बांधकर किया दुष्कर्म

                योगी ने कार्यक्रम में अधिकारियों को निर्देश दिए कि 30 नवंबर तक पात्र सभी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान कर दी जाए। छात्रवृत्ति योजना छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन में मदद करेगी।
             उन्होंने कहा कि अधिकारी इस कार्य को मिशन मोड में करें। कोई भी छात्र छात्रवृत्ति से महरूम न रहें। सीएम ने कहा कि साल 2012-13 में जो छात्रवृत्ति व फीस प्रतिपूर्ति 1800 करोड़ रुपये मिलती थी। वर्तमान में उसे बढ़ाकर राज्य सरकार ने तीन हजार नौ सौ करोड़ रुपये करने का काम किया है। यह प्रदेश में हर तबके के बच्चों को शासन की ओर से दी जाने वाली बड़ी राहत है।

Read More- तारक मेहता एक्ट्रेस आराधना शर्मा ने ग्लैमरस लुक में ढाया कहर

                  इससे पहले मुख्यमंत्री योगी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर उन्हें नमन करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किये। कहा कि राष्ट्रपिता ने दुनिया के सामने अहिंसा, मैत्री और करुणा के रूप में आजादी की लड़ाई का नेतृत्व किया। स्वदेशी, स्वावलंबन का भाव आम नागरिकों में जागृत किया। हमारा सौभाग्य है कि हम आजादी के अमृत महोत्सव में प्रवेश कर रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि गांधी जी के स्वदेशी के लक्ष्य और पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान को आज उत्तर प्रदेश सरकार साकार कर रही है। हम गांव में रोजगार सृजन के अवसर दे रहे हैं, यही गांधी जी के ग्राम स्वराज का सपना था। योगी ने कहा कि आज शास्त्री जी की जयंती भी है। उन्होंने राजनीति में शुचिता की स्थापना की। उन्होंने स्वाधीनता आंदोलन को बढ़ाया। 1965 के युद्ध मे उन्होंने दिखाया कि भारत भी दुश्मनों को मुहतोड़ जवाब दे सकता है।

error: Content is protected !!