January 29, 2023

UP One India

Leading Hindi News Website

Budget Announcement 2023-24: आम बजट की तैयारी में लगी सरकार, Budget की घोषणा के बाद 30 से अधिक सामान हो सकते हैं महंगे, जानें कौन-कौन से है वह समान जो हो सकते हैं महंगे

Budget Announcement 2023-24: आम बजट की तैयारी में लगी सरकार, Budget की घोषणा के बाद 30 से अधिक सामान हो सकते हैं महंगे, जानें कौन-कौन से है वह समान जो हो सकते हैं महंगे

Budget Announcement 2023-24, Budget 2023-24, General Budget, General Budget 2023, Announcement of budget, Announcement of budget 2023, Budget

नईदिल्ली। केंद्र सरकार 2023-24 के आम बजट General Budget की तैयारी में लगी है। आने वाली 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मता सीतारमण अपने कार्यकाल का पांचवा आम बजट पेश करेंगी। केंद्रीय बजट में हर साल कई सामानों (वस्तुओं) और सेवाओं पर लगने वाले टैक्स को लेकर भी बदलाव की घोषणा की जाती है।
यही कारण है कि बजट की घोषणा के बाद Budget Announcement कई बार कुछ सामानों की कीमतों में गिरावट आती हैं तो वहीं अगर बजट में जिन सामान और सेवाओं पर लगने वाले टैक्स को बढ़ाया जाता है तो उनकी कीमतों में इजाफा होता है। इस साल बजट के बाद कई सामानों के महंगे होने आशंका है। रिपोर्ट के मुताबिक इस बार के आम बजट के बाद करीब 35 या उससे अधिक सामानों के भाव बढऩे वाले हैं क्योंकि इन पर लगने वाली कस्टम ड्यूटी को बढ़ाने पर सरकार विचार कर रही है।

Budget Announcement 2023-24: The government engaged in the preparation of the general budget, after the announcement of the budget, more than 30 items can be expensive, know which are the same which can be expensive

अगर इस पर फैसला होता है और केंद्र की ओर से इन सामानों पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाई जाती है तो ये सामान बजट के बाद महंगे हो सकते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार इन वस्तुओं का आयात घटाने और देश में ही इन सामानों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए कस्टम ड्यूटी बढ़ाने का ऐलान कर सकती है। ऐसा माना जा रहा है कि इस फैसले से सरकार की ‘मेक इन इंडिया’ प्रोजेक्ट को भी बढ़ावा मिल सकता है।

रिपोर्ट के मुताबिक जिन सामानों पर कस्टम्स ड्यूटी बढ़ाने पर सरकार विचार कर रही है, उनमें प्राइवेट जेट, हेलीकॉप्टर, कई महंगे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, प्लास्टिक के सामान, ज्वैलरी, हाई-ग्लॉस पेपर और विटामिन आदि शामिल हैं। वहीं, कॉमर्स एंड इंडस्ट्री मिनिस्ट्री ने बीते महीने ही विभिन्न मंत्रालयों से उन गैर-जरूरी वस्तुओं की लिस्ट बनाने को कहा था, जिनपर कस्टम ड्यूटी बढ़ाई जा सकती है।

रिपोर्ट की मानें तो केंद्र सरकार को उम्मीद है कि अगर इन सामानों पर कस्टम ड्यूटी को बढ़ाया जाएगा तो देश में इनके आयात में कमी आ सकती है, इससे दो फायदे होने की उम्मीद है- एक, देश को अपना चालू खाता घाटा कम करने में मदद मिल सकती है। दूसरा, इन सामानों के देश में ही उत्पादन अधिक होने की संभावना है। इससे सरकार का मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट भी मजबूत हो सकता है।

बता दें, वित्त वर्ष 2023 की सितंबर तिमाही में देश का चालू खाता घाटा बढ़कर बीते 9 सालों के हाई लेवर था, यानी 4.4 प्रतिशत पर पहुंच गया था। बता दें कि 1 फरवरी को पेश होने वाला बजट 2024 के आम चुनाव से पहले मोदी सरकार का आखिरी पूर्ण बजट होगा।

You may have missed

error: Content is protected !!