November 30, 2022

UP One India

Leading Hindi News Website

अंकिता हत्याकांड: रिजॉर्ट में आती थीं लड़कियां, शराब के अलावा कई तरह के नशे का रहता था स्टॉक

अंकिता हत्याकांड: रिजॉर्ट में आती थीं लड़कियां, शराब के अलावा कई तरह के नशे का रहता था स्टॉक

Ankita murder case: Girls used to come to the resort, apart from alcohol, there was stock of many types of intoxicants

ऋषिकेश। अंकिता हत्याकांड मामले के तीनों आरोपी सलाखों के पीछे से लेकिन अब आरोपी पुलकित के वन्तर रिसोर्ट और फैक्टी को लेकर अब नए नए खुलासे हो रहे हैं। पुलकित आर्य के दोनों पूर्व स्टाफ कर्मियों ने पुलकित का काला चि-ा बताया है। ये वो कर्मचारी हैं जो अंकिता की तरह ही प्रताड़ित होकर यहां से किसी तरह अपनी जान बचा कर भाग निकले थे। मौजूदा समय में मेरठ में रहने वाले दोनों पति-पत्नी जून महीने तक यही काम कर रहे थे। मात्र 2 महीनों में वह इतने परेशान हो गए की उन्हें रातोंरात यहां से भाग कर अपनी जान बचानी पड़ी। दोनों पति पत्नी ने पुलकित आर्य और अंकित उर्फ अंकित गुप्ता की पूरी कुंडली खोलकर रखी।

रुड़की के रहने वाले इन दो पूर्व कर्मचारियों ने होटल मैनेजमेंट के कोर्स किया था। इसके बाद ये नौकरी तलाश रहे थे। इसी बीच उन्हें पुलकित आर्य के इस रिजॉर्ट में स्टाफ रिक्वायरमेंट की जानकारी मिली। इसके बाद दोनों ने यहां पर आकर पुलकित आर्य से संपर्क किया। दोनों की यहां नौकरी लग गई। लगभग 2 महीनों की नौकरी में ही दोनों पति-पत्नी यहां इतने परेशान हो गए कि उन्हें रातोंरात यहां से भागना पड़ा।

वंत्रा रिजॉर्ट की पूर्व कर्मचारी इशिता बताती हैं कि पुलकित आर्य उन्हें इतना परेशान कर रहा था कि कई बार उन्होंने यहां से भागने की कोशिश की, लेकिन हर बार वह असफल रहे। पुलकित आर्य अपने चंगुल में यहां के स्टाफ को फंसाकर रखता था। जिसके कारण यहां से निकलना बहुत मुश्किल होता था।
इशिता ने बताया कि पुलकित आर्य ने उनके ऊपर भी चोरी का आरोप लगाया था। चोरी का आरोप लगाने के बाद उनसे लिखित में माफी मंगवाई, जबकि उन्होंने कोई चोरी नहीं की थी। पुलकित आर्य की प्रताडऩा झेल रहे दोनों पति-पत्नी बड़ी मुश्किल से यहां से निकले।

इशिता और उनके पति ने बताया कि, इस रिजॉर्ट में हमेशा कुछ लड़कियों का आना जाना लगा रहता था। इनके बारे में पुलकित आर्य यह साफ हिदायत देता था कि उनके नाम और नंबर कभी नोट नहीं करने हैं। दिन हो या रात यहां पर कुछ ऐसे लोगों को पुलकित आर्य लेकर आता था। जिनके लिए ये लड़कियां लाई जाती थीं। उन्होंने बताया पुलकित आर्य यहां पर स्टाफ को मारता और पीटता था। जैसे ही कोई यहां से जाने की कोशिश करता था तो उसको किसी तरह से फंसा देता था।

इशिता ने बताया कि यहां पर ना केवल भारी मात्रा में शराब आती थी बल्कि सुल्फा, गांजा और नशे के कई तरह के सामान यहां पर स्टॉक किए जाते थे। पुलकित आर्य के कुछ ऐसे दोस्त भी यहां पर आते थे, जिनके लिए विशेष इंतजाम किया जाता था। अलग-अलग तरह की लड़कियां यहां पर आती थीं। वह गेस्ट के रुप में ही रुकती थी। पुलकित आर्य उनके बारे में कोई भी जानकारी नोट नहीं करने देता था।

वनंत्रा रिजॉर्ट में काम करने वाले पति-पत्नि ने बताया कि पुलकित ने मेरे पति से कहा अपनी पत्नी को रूम में भेज दो। तब हम दोनों को बहुत अजीब लगा। उन्होंने मुझसे जबरदस्ती रूम में खाना मंगवाने की जिद भी की थी। उस वक्त पुलकित आर्य शराब के नशे में था, लेकिन मैं वहां नहीं गई। इस बात से पुलकित बेहद नाराज हुआ। शुक्र था कि मेरे पति भी मेरे साथ काम करते थे, नहीं तो मेरे साथ कुछ भी हो सकता था। उन्होंने बताया कि पीछे तेज आवाज में कई बार डीजे में डांस होता था। लड़की लड़के एक साथ डांस करते थे, जो लड़कियां दूसरे कस्टमरों के लिए बुलाई जाती थी उसके साथ पुलकित भी एंजॉय करता था।

दोनों पति-पत्नी में बताया वह यहां से निकलने में कामयाब नहीं हो पा रहे थे। लोगों ने उन्हें बताया कि पुलिस को फोन करने के बाद यह जानकारी पता लगी कि ये पुलिस क्षेत्र नहीं है। यह राजस्व क्षेत्र है। जिसके बाद हमने पटवारी को फोन किया। पटवारी ने यहां पर आकर उल्टा हमें ही धमकाया। साथ ही पटवारी ने इस बात की भी हिदायत दी कि अगर यहां ज्यादा तेज बनने की कोशिश करोगे तो उन्हें अंजाम भुगतने होंगे।

उन्होंने बताया पटवारी अमूमन यहां पर कई बार रात और दिन में आया करता था। पुलकित आर्य के पटवारी और उससे जुड़े हुए लोगों से अच्छे संबंध थे। यहां पर कर्मचारियों से मारपीट की कई बार पटवारी को शिकायत दी जाती थी, मगर इस पर कभी कोई कार्रवाई नहीं हुई। उल्टा पटवारी भी हमेशा ही कर्मचारियों को धमकाया करता था। दोनों ने बताया रिजॉर्ट में हमेशा ही पटवारी को विशेष ट्रीटमेंट दिया जाता था।

पूर्व कर्मचारी ने बताया कि पुलकित के कारनामों की पूरी जानकारी उसकी पत्नी को थी। वो लगातार इसका विरोध भी करती थी। पुलकित आर्य की पत्नी ने हम दोनों से कहा था कि तुम दोनों यहां काम मत करो। वे कहती थी यहां का माहौल ठीक नहीं है। यहां अच्छे लोग नहीं आते हैं।

error: Content is protected !!