ED के एक्शन पर कांग्रेस का वार, विनाश काले विपरीत बुद्धि, बड़े प्रदर्शन की चेतावनी

ED के एक्शन पर कांग्रेस का वार, विनाश काले विपरीत बुद्धि, बड़े प्रदर्शन की चेतावनी

नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मामले में ED ने बड़ी कार्रवाई करते हुए यंग इंडिया लिमिटेड का कार्यालय सील कर दिया है। इसके अलावा कांग्रेस मुख्यालय और राहुल गांधी के आवास पर भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। ईडी के ऐक्शन को लेकर पहले से ही आक्रोशित कांग्रेस नेताओं ने केंद्र पर प्रतिशोधी की राजनीति का आरोप लगाया गया है। कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मुख्यालय पहुंचे और बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा सरकार पर हमला बोला। मल्लिकार्जुन खडग़े, सलमान खुर्शीद, दिग्विजिय सिंह, अभिषेक मनु सिंघवी और पी चिदंबरम और जयराम रमेश कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे थे।

कांग्रेस ने कहा है, पुलिसिया पहरे से सत्य की आवाज नहीं दबेगी। महंगाई और बेरोजगारी पर सवाल पूछे जाएंगे। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा, दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय के साथ राहुल और सोनिया गांधी के घर को घेर लिया है और इसे छावनी में तब्दील कर दिया गया। उन्होंने कहा, हम डरेंगे नहीं।

प्रदर्शन करने से रोका गयाः अजय माकन
अजय माकन ने कहा, शनिवार को एआईसीसी की तरफ से एक सर्कुलर जारी किया गया कि 5 अगस्त को महंगाई और बेरोजगारी को लेकर देशव्यापी प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें कहा गया था कि कांग्रेस नेता प्रधानमंत्री आवास से राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेंगे। आज हमें डीसीपी की तरफ से लेटर आया कि आप 5 तारीख को कोई प्रदर्शन नहीं कर सकते।
उन्होंने कहा, आप जितना चाहें दबाव बना लें कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी और खाद्य पदार्थों पर ली जीएसटी को लेकर विरोध प्रदर्शन करते रहेंगे। हम डरेंगे नहीं।

क्या नेताओं को आतंकवादी समझती है सरकार?- सिंघवी
कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि इस तरह की पुलिसिया कार्रवाई करके सरकार जनता को बहकाना चाहती है। वह नहीं चाहती है कि चौनलों पर महंगाई और बेरोजगारी सुर्खियां बनें। उन्होंने कहा, क्या सरकार नेताओं को आतंकवादी समझती है? कांग्रेस सच को सामने लाने के लिए काम करती रहेगी। कांग्रेस लोकतांत्रिक मूल्यों को बचाने केलिए लड़ाई करती रहेगी।

विनाश काले विपरीत बुद्धि
कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा, यह प्रतिशोध की राजनीति है। एक प्राचीन कहावत है, विनाशकाले विपरीत बुद्धि। महंगाई, बेरोजगारी को देखते हुए यह विनाशकाल है। दो हफ्ते तक मोदी सरकार बहस से भागती रही। अब हमारे प्रदर्शन को रोकने के लिए आज से ही शुरुआत कर दी गई है।

घर पर नहीं मौजूद हैं राहुल गांधी
राहुल गांधी इस समय कर्नाटक के दौरे पर हैं। आज रात वह दिल्ली लौटने वाले हैं। इधर उनके आवास के बाहर सुरक्षा बढ़ाई गई है और पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। कांग्रेस का कहना है कि इस तरह का काम करके सरकार जनता को ध्यान महंगाई और बेरोजगारी से हटाने की कोशिश कर रही है। कांग्रेस मुख्यालय के बाहर भी सुरक्षा कड़ी की गई थी। जानकारी के मुताबिक अब बैरिकेड्स हटा लिए गए हैं।

error: Content is protected !!