November 26, 2022

UP One India

Leading Hindi News Website

ट्रेन के चपेट में आने से सेना के जवान की हुई मौत, क्षेत्र में छाया मातम, अंतिम संस्कार में जुटी अपार भीड़

ट्रेन के चपेट में आने से सेना के जवान की हुई मौत, क्षेत्र में छाया मातम, अंतिम संस्कार में जुटी अपार भीड़

गोण्डा। परसपुर थाना क्षेत्र के परसपुर ग्रामीण में गंगा पुरवा गांव निवासी सेना के जवान महेश प्रताप सिंह के पार्थिव शरीर के अंतिम संस्कार में जनमानस की आँखे नम हो गयी। विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए काफी लोग अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

बताया जा रहा है कि अवकाश पर अपने घर आ रहे सेना के जवान महेश सिंह की करनैलगंज रेलवे स्टेशन के समीप ट्रेन की चपेट में आकर गत शुक्रवार की सुबह मौत हो गई। इसकी सूचना मिलते ही परिजनों में मातम छा गया। परसपुर क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गयी। परिजनों के अनुसार- भोपाल में तैनात रहे सैनिक महेश सिंह अवकाश पर ट्रेन से अपने घर परसपुर आ रहे थे। शुक्रवार की सुबह करनैलगंज रेलवे स्टेशन के समीप ट्रेन के चपेट में आकर उनकी मौत हो गयी। सूचना पर पहुंची जीआरपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जिला मुख्यालय पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया, शनिवार की सुबह सैनिक रेजीमेंट फैजाबाद से आए हुए जवानों ने श्रद्धांजलि दी। सैनिक महेश सिंह के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिये ले जाया गया।

उसकी बहन पूनम सिंह ने बताया कि दिवंगत सैनिक महेश प्रताप सिंह अपने छह भाई राजकुमार, अनुज सिंह, शत्रुहन सिंह, माता प्रसाद सिंह , विक्रम सिंह से छोटा भाई था। पार्वती सिंह, पूनम सिंह व ममता सिंह विवाहित तीन बहनें है। सैनिक महेश सिंह का विवाह वर्ष 2019 में कण्डरु गाँव से सत्यम सिंह से हुआ था। जिसके दाम्पत्य जीवन में डेढ़ वर्ष का देवांश सिंह नामक लड़का है। सैनिक प्रशिक्षण काल में ही महेश सिंह के सिर से पिता वासुदेव सिंह का साया उठ गया। शुक्रवार को दोपहर बाद पोस्टमार्टम उपरांत सैनिक महेश सिंह का शव पैतृक गांव पहुंचते ही कोहराम मच गया। जवान के अंतिम यात्रा में सेना की बटालियन व आसपास गाँव के काफी सँख्या में नागरिक शामिल रहे हैं। लोगों ने नम आंखों से सेना के जवान की अंतिम विदाई दी।

error: Content is protected !!