February 8, 2023

UP One India

Leading Hindi News Website

हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर ठगी करने का मास्टर माइंड गिरफ्तार

हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर ठगी करने का मास्टर माइंड गिरफ्तार

चमोली। चारधाम यात्रा के दौरान साइबर ठगों द्वारा फर्जी साइट तैयार कर होटल बुकिंग, यात्रा रजिस्ट्रेशन और चारधाम यात्रा हेतु हैलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर फर्जी साइट्स बनाकर लाखों रुपये की ठगी की जा रही है। चमोली पुलिस ने ऐसी ही ठगी का खुलासा कर एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। जिसने हैलीकॉप्टर की बुकिंग कराने के नाम पर चार धाम की यात्रा का झांसा देकर लोगों को ठगा। पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल रेंज ने घटना के सफल अनावरण एवं फर्जीवाड़े के मुख्य अभियुक्त की गिरफ्तारी करने वाली टीम को 10,000 रुपये, व पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने 5000 रुपये ईनाम की घोषणा की है।

पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बताया उत्तर प्रदेश से बदरीनाथ दर्शन को आए श्रद्धालु अम्बरीश कुमार ने कोतवाली बदरीनाथ में आकर बताया कि हिमालयन हेली सर्विस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा केदारनाथ हेतु ऑनलाइन हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर उनके साथ 24,590/ रुपये की ठगी की गई है। इस घटना की गम्भीरता से लेते हुए बदरीनाथ को उक्त प्रकरण में मुकदमा पंजीकृत करने व फ्रॉड से सम्बन्धित अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम गठित करने हेतु निर्देशित किया गया। मामले में मुकदमा कायम कर इसकी विवेचना उपनिरीक्षक विनोद चौरसिया को सौंपी गई।

अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु उपनिरीक्षक विनोद चौरसिया के नेतृत्व में एसओजी टीम द्वारा कुशल सुरागरसी-पतारसी व सर्विलांस शाखा एवं तकनीकी सहायता से फोन कॉल्स एवं लोकेशन के आधार पर अभियुक्त का नवादा (बिहार) होना पाया गया। अभियुक्त की तलाश एवं गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम बिहार रवाना की गई। बिहार में लगातार 10 दिनों के अथक प्रयास से वादी को कॉल करने बाले एवं वेबसाइट पर लिंक मोबाइल नम्बर मय दो मोबाइल फोन व 42,000/-रुपये नगद के साथ मुख्य अभियुक्त विभीषण महतो निवासी- ग्राम भवानी बीघा थाना- वारिसलीगंज जनपद नवादा, उम्र -19 वर्ष की जनपद एवं थाना नवादा (बिहार) से गिरफ्तारी की गयी।

पूछताछ में आरोपी ने कबूल किया कि उसके द्वारा ही हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर लोगों से ठगी की जा रही है । अबतक देशभर में अलग-अलग लोगों से 15 से 20 लाख की धोखाधड़ी की जा चुकी है। खुलासा करने वाली पुलिस टीम में उनि विनोद चौरसिया, आरक्षी राजेन्द्र सिंह रावत (एसओजी),आरक्षी आशुतोष तिवारी (एसओजी), आरक्षी विपिन रावत (सर्विलांस शाखा) रहे।

error: Content is protected !!