सिसवा-निचलौल मार्ग: तो क्या दुर्गवलिया में पुराने खम्भे पर ही बनेगा नया पुल

सिसवा-निचलौल मार्ग: तो क्या दुर्गवलिया में पुराने खम्भे पर ही बनेगा नया पुल

Siswa-Nichlaul Road: So will the new bridge be built on the old pillar in Durgvalia?

सिसवा बाजार-महराजगंज। सिसवा से निचलौल मुख्य मार्ग पर दुर्गवलिया के पास बन रहा सड़क पुल में क्या भ्रष्टााचार हो रहा है, सवाल यह है कि यहां नये पुल के निर्माण का कार्य हो रहा है या फिर पुराने पुल को की नया बनाने का खेल चल रहा है।

पुराने पुल को की नया बनाने का खेल

बताते चले सिसवा से निचलौल मुख्य मार्ग चौड़ा हो गया है जिससे पहले के बने पुल छोटे पड़ रहे है और वाहनों के लिए खतरा बना हुआ था ऐसे में दुर्गवलिया के पास बने सड़क पुल को तोड़ कर सड़क की चौड़ाइ के हिसाब से नये पुल का निर्माण किया जा रहा है, पूरे पुल को तोड़ दिया गया लेकिन उसका खम्भा जिसे पाया कहा जाता है उसे नही तोड़ा गया और सम्भे के आप-पास निर्माण के लिए पक्का फर्स बनाया जा रहा है, ऐसे में सवाल उठता है कि जब नये पुल का निर्माण हो रहा है तो फिर पुराने पुल का खम्भा नये पुल मे क्यो इस्तेमाल किया जा रहा है, इसकी जांच होनेी चाहिए।

लोगों का कहना है कि नये पुल के निर्माण का कार्य हो रहा है ऐसे में पुराने पुल के खम्भे को तोड़ नया खम्भा बनाना चाहिए जिससे पुल मजबूत हो सके नही तो कुछ दिनो बात पुल जर्जर हो कर ध्वस्त हो सकता है।

बाइपास भी खतरनाक है
इस पुल के निर्माण के दौरान वाहनों का आवागमन बना रहे बगल में बाइपास बनाया गया है, लेकिन यहां बना बाइपास खतरे से भरा हुआ है, कभी कोई वाहन दुर्घटना का शिकार हो सकता है, खेतों मे मिट्टी बराबर कर बाइपास बना तो दिया गया लेकिन वाहनों के आने जाने से वह गडढों में बदल गया है।

error: Content is protected !!