Maharajganj – Kushinagar: एक ऐसा गांव जहां वोट लेने और सपना दिखाने के बाद गायब हो जाते है नेता

           

Maharajganj - Kushinagar: एक ऐसा गांव जहां वोट लेने और सपना दिखाने के बाद गायब हो जाते है नेता

सिसवा बाजार-महराजगंज। महराजगंज जिले के सिसवा विधान सभा व कुशीनगर जिले के खडड्ा विधानसभा क्षेत्र में ऐसे भी गांव है जहां विकास की किरण अब भी नही पहुंच सकी है, हम विकास का दावा भले करें लेकन उन गांव में पहुंचने पर पता चलता है कि यहां के लोग किस तरह जिन्दगी गुजारते है, न जाने के लिए सड़क है, न उच्च शिक्षा के लिए कोई स्कूल, न ही अस्पताल है न ही बिजली और न तो शुद्व पेय जल की व्यवस्था, फिर हम कैसे कहे कि यहां विकास हुआ है, एक अदद मोबाइल चार्ज करने की व्यवस्था तक नही है।
         हम बात कर रहे है सोहगी बरवा क्षेत्र की, नदियों व जंगल से घीरे इस क्षेत्र में महराजगंज जिले के सिसवा विधानसभा क्षेत्र के तीन व कुशीनगर जिले के खड्डा विधानसभा क्षेत्र के 4 गांव पड़ते है, यहां जाने के लिए बिहार जाना पड़ता है, फिर जंगल के बीच रास्ते लगभग 5 से 6 किमी चलने के बाद यह गांव पड़ते है, यहां पहुंचने के लिए जंगल के बीच कच्ची सड़क ही एक मात्र रास्ता है, या फिर नाव से नदी को पार करना पड़ता है तब कही जा कर यहां आप पहुंच सकेंगे।
 

      नदियों से घिरे इस क्षेत्र से मात्र 4 से 5 किमी दूर नेपाल देश की सीमा है ऐसे में यहां तो विकास की बड़ी आवश्यक्ता है लेकिन यहां के लोगों की मानें तो नेताओं ने समय-समय पर खुब छला है, चुनाव के समय बड़े-बड़े वादे कर सपने जरूर दिखाए है लेकिन चुनाव बाद कोई नही आता, यानी वोट लेने और सपना दिखाने के बाद नेता गायब हो जाते है, फिर जब चुनाव आता है तो सपनों की बारिस करने चले आते है।
    हम एक-एक समस्या को आपके सामने रख्ेंगे।
    क्रमशः जारी,

error: Content is protected !!