December 1, 2022

UP One India

Leading Hindi News Website

मेहंदी रचा बैठी थी दुल्हन और फरार हो गया दूल्हा, जाने फिर क्या हुआ

   

मेहंदी रचा बैठी थी दुल्हन और फरार हो गया दूल्हा, जाने फिर क्या हुआ

        धनबाद। पटना की दुल्हन और धनबाद के दूल्हे की शादी में हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। दुल्हन स्वजनों के साथ शादी के लिए धनबाद पहुंची। यहां के एक होटल में शादी समारोह चल रहा था। दुल्हन मेहंदी रचा और सजधज दूल्हे के इंतजार में बैठी थी। इसी बीच दूल्हा का मोबाइल स्वीच आफ हो गया। काफी इंतजार के बाद दूल्हा नहीं आया तो दुल्हन धनबाद थाने पहुंची। पुलिस ने कानून का डंडा दिखाते हुए पंडित की भूमिका निभाई तो दूल्हा प्रकट हुआ। दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ। फिर देर रात धनबाद के भूईंफोड़ मंदिर में शादी हुई।
        शादी के लिए बिहार के पटना से पहुंचे एक युवती के परिवार को शुक्रवार को धनबाद में भारी फजीहत झेलनी पड़ी। दुल्हन के स्वजनों ने लड़के पर धोखा देने का आरोप लगाया। भूली का रहनेवाला दूल्हा रत्नेश कुमार धनबाद में रेलवे में नौकरी करता है। वधू पक्ष के लोगों ने बताया कि शादी के लिए 25 मार्च की तारीख तय थी लेकिन, शादी के दिन ही दूल्हा फरार हो गया। दिनभर हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद शाम में पुलिस ने लड़के को ढूंढ़ा और फिर काउंसलिंग के लिए महिला थाना लेकर आई। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ।
   

         पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत युवती अपने पूरे परिवार के साथ शादी करने के लिए धनबाद आई थी। शहर के एक होटल में शादी होनी थी। इसी बीच पता चला कि दूल्हा और उसके परिवार के लोग शादी के लिए अब तैयार नही हैं। दूल्हा घर छोड़कर फरार हो गया है।
    शादी के लिए बिहार के पटना से पहुंचे एक युवती के परिवार को शुक्रवार को धनबाद में भारी फजीहत झेलनी पड़ी। दुल्हन के स्वजनों ने लड़के पर धोखा देने का आरोप लगाया। भूली का रहनेवाला दूल्हा रत्नेश कुमार धनबाद में रेलवे में नौकरी करता है। वधू पक्ष के लोगों ने बताया कि शादी के लिए 25 मार्च की तारीख तय थी लेकिन, शादी के दिन ही दूल्हा फरार हो गया। दिनभर हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद शाम में पुलिस ने लड़के को ढूंढ़ा और फिर काउंसलिंग के लिए महिला थाना लेकर आई। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ।
   

              दूल्हा घर छोड़कर फरार हो गया है। इसके बाद दुल्हन समेत उसके परिवार के दर्जनों लोग फरियाद लेकर महिला थाना पहुंच गए। युवती का कहना था कि इस मामले में पहले पिछले साल नवंबर माह में शादी की तारीख तय थी, लेकिन तब भी दूल्हे के इंकार करने की वजह से पहले भी एक बार धनबाद महिला थाना में दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ था। उस समय पुलिस के सामने लड़का पक्ष ने 25 मार्च 2022 को शादी पर सहमति जताई थी। इसलिए लड़की वाले शादी करने को पूरी तैयारी के साथ धनबाद आए थे। जब लड़का सामने नहीं आया तो युवती के परिवार के लोग महिला थाना पहुंच गए।
    युवती के भाई ने बताया कि लड़का ग्रुप डी में नौकरी करता है, लेकिन उसने खुद को ग्रुप सी कर्मचारी बताकर आठ लाख रुपये दहेज ले लिया।
   

error: Content is protected !!