January 28, 2023

UP One India

Leading Hindi News Website

सिसवा विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी की बढ़ी मुस्किलें, लगा बड़ा झटका, तीन मंडल अध्यक्षों ने दिय इस्तीफा

            

सिसवा विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी की बढ़ी मुस्किलें, लगा बड़ा झटका, तीन मंडल अध्यक्षों ने दिय इस्तीफा

महराजगंज। सिसवा विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रहीं हैं। पहले गांव गांव में भाजपा प्रत्याशी का विरोध और अब एक साथ तीन मंडल अध्यक्षो के इस्तीफे से चुनाव के बीच में पार्टी मुश्किल में घिरती नजर आ रहीं हैं।
   सिसवा विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी ने वर्तमान विधायक प्रेम सागर पटेल को एक बार फिर अपना प्रत्याशी बनाया हैं। इसे लेकर पार्टी के अंदरखाने में ही रार मची हुई हैं।हालाकि इसे कम करने को लेकर पार्टी नेतृत्व लगातार कोशिश कर रहा हैं। लेकिन भाजपा की मुश्किले कम होती नहीं दिख रहीं हैं।
    आज रविवार को पार्टी के मिठौरा मडल अध्यक्ष दीपक पांडेय, जहदा मंडल अध्यक्ष संजय कुमार और निचलौल मंडल अध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने संयुक्त रुप से प्रेस कांफ्रेंस कर मंडल अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। मंडल अध्यक्षों का कहना है कि वे पार्टी के निष्ठावान कार्यकर्ता है और पार्टी के लिए लगातार काम भी कर रहें हैं लेकिन प्रत्याशी द्वारा अपने कार्यकर्ताओं पर अविश्वास करते हुये उनका उत्पीड़न किया कराया जा रहा हैं। यही नहीं पांच साल लगातार भाजपा की रीति नीति से विरक्त हो भाजपा विधायक जनता और कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया।जिसका प्रतिफल आज उन्हे मिल रहा हैं गांव गांव में उनका विरोध हो रहा हैं, उनके कथित क्रियाक्लापो से पार्टी की क्षवि भी धूमिल हो रही हैं।यही नहीं पार्टी प्रत्याशी का प्रचार करने गांव में जा रहे बूथ कार्यकर्ताओं को भी जनता खरी खोटी सुना रही हैं। जिससे कार्यकर्ताओं और पार्टी के सम्मान को आघात पहुँच रहा हैं। लिहाजा पार्टी हित में हम सभी लोगों आज अपने पद से इस्तीफा दे रहें है।
  

          एक सवाल के जबाब में मंडल अध्यक्षों ने बताया कि हम लोग पार्टी के सच्चे सिपाही है और पार्टी का सेवा हमेशा करते रहेंगे। साथ ही मंडल अध्यक्षों ने मोदी और योगी के कार्याे की सराहना की।
     बताते चले कि सिसवा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत निचलौल, जहदा और मिठौरा बीजेपी का गढ़ माना जाता है। ऐसे में तीन मंडल अध्यक्ष का त्यागपत्र देने के कारण क्षेत्र में राजनीतिक हड़कंप मच गया हैं।मंडल अध्यक्ष के त्यागपत्र के बाद असंतुष्ट कार्यकर्ता मुखर हो पार्टी नेतृत्व से लगातार अपना विरोध जता रहें हैं।

You may have missed

error: Content is protected !!